कर्फ्यू दौरान विद्यार्थियों के माता पिता से फीस मांगने वाले कैंबरिज इंटरनैशनल स्कूल और आर्मी पब्लिक स्कूल को कारण बताओ नोटिस जारी

Show cause notices to two more Jalandhar schools for demanding fees during lockdown share via Whatsapp

Show cause notices to two more Jalandhar schools for demanding fees during lockdown

Schools should provide window period of atleast 30 days after situation gets normalised: Vijay Inder Singla


No books and transportation fees should be charged during lockdown period: Minister

स्थिति आम होने पर नये दाखिले के लिए विद्यार्थियों  के माता पिता से फीस भरने के लिए एक महीने का समय दें सभी स्कूलः शिक्षा मंत्री विजय इंद्र सिंगला

कैबनिट मंत्री द्वारा  स्कूलों का लाकडाऊन खत्म होने तक बसों का किराया और किताबों का खर्च भी ना वसूलने के निर्देश

इंडिया न्यूज सेंटर,जालन्धरः
पंजाब सरकार के निर्देशों के उलट कर्फ़्यू केदौरान विद्यार्थियों के माता पिता से फीस मांगने वाले जालंधर के कैंब्रिज इंटरनैशनल स्कूल जालंधर और आर्मी पब्लिक स्कूल जालंधर कैंट को आज कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। इससे संबन्धित और ज्यादा जानकारी देते हुए शिक्षा मंत्री पंजाब विजय इंद्र सिंगला ने बताया कि सरकार की निर्देशों का उल्लंघन करने वाले राज्य के 48 स्कूलों को अब तक नोटिस जारी करके जवाब दाखिल करने के लिए 7 दिन का समय दिया गया है।  यदि यह स्कूल उचित  जवाब देने से असमर्थ रहे तो इतकी मान्यता या एतराजहीनता सर्टिफिकेट (एन.ओ.सी.) रद्द कर दी जायेगी। उन्होने कहा कि इस से पहले भी जालंधर के ए.पी.जे. स्कूल को ऐसा नोटिस जारी किया जा चुका है। कैबिनेट मंत्री ने निर्देश की कि लाकडाऊन खत्म होने तक स्कूलों द्वारा अगले अकादमिक साल के लिए बसों के किराये और किताबों का खर्च ना वसूला जाये।  उन्होने कहा कि इन स्कूलों के अतिरिक्त यदि कोई अन्य  स्कूल भी कर्फ़्यू के दौरान फीस की माँग करता है तो विद्यार्थी या उन के माता पिता अपनी शिकायत सीधा उनको ई -मेल, vijayindersingla@gmail.com  पर भेज सकते हैं। विजय इंद्र सिंगला ने बताया कि कोरोनावायरस के हमले से पूरी दुनिया प्रभावित हुई है जिस कारण  हालात आम की तरह होने तक पंजाब के सभी स्कूलों को दाखिलों और फीसें लेने से मनाही के आदेश  जारी किये गए थे। उन्होने कहा कि परन्तु कुछ प्राईवेट स्कूलों द्वारा इन निर्देशों का उल्लंघन करके अलग -अलग मध्यमों द्वारा माता पिता को फीस भरने के लिए संदेश लगाए जा रहे थे। कैबिनेट मंत्री ने बताया कि 23 मार्च 2020 को शिक्षा विभाग द्वारा  सभी गैरसरकारी शैक्षिक संस्थाओं को निर्देश की गई थी कि साल 2020-21 के लिए दाखिले की अंतिम तिथि को दोबारा निश्चित किया जाये और हालात सुधरने के उपरांत फीसों लेने के लिए एक महीनो का समय जरूर उपलब्ध करवाया जाये। उन्होने कहा कि इन आदेशों के द्वारा ही लौकडाऊन लागू रहने तक कोई जुर्माना या लेट फीस लगाने से मनाही की गई थी।

Show cause notices to two more Jalandhar schools for demanding fees during lockdown
OJSS Best website company in jalandhar
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment






11

Latest post