कांग्रेस ने किया नजरअंदाज तो आजाद लड़ने पर हो सकता है विचार-ढल्ल बंधु

innocent school jalandhar
Congress ignored the views Dll brothers then be free to fight share via Whatsapp

इंडिया न्यूज सेंटर, जालंधरः नार्थ विधानसभा हल्के का टिकट आवंंटन कांग्रेस की सिरदर्दी बनता जा रहा है।  अकाली दल छोड़़कर कांग्रेस में आए ढल्ल ब्रर्दस ने टिकट की दावेदारी की थी कि अवतार हैनरी के बाद अगर टिकट पर दावेदारी बनती है तो वह उनकी बनती है। ढल्ल ब्रर्दस का मानना है कि हैनरी के बेटे से वह एक मजबूत उम्मीदवार हैं और कांग्रेस को सीट जीतकर भी दिखाएंगें। कांग्रेस हैनरी के बेटे को टिकट किस आधार पर दे रही है यह समझ से परे है। कांग्रेस को परिवारवाद की राजनीति से बाहर आने की जरुरत है। उधर अमित ढल्ल पर हल्के के लोगों का दबाव बनता जा रहा है, अगर अबकी बार भी कांग्रेस ने उन्हें टिकट नही दी तो वह आजाद उम्मीदवार के तौर पर चुनांव लडें। बताते है काफी दिनो से ढल्ल ब्रर्दस दिल्ली में डेरा जमाए बैठे हैं।
बता दें कि किसी समय अवतार हैनरी अौर ढल्ल बंधु काफी करीब होते थे। किसी बात को लेकर इनमें दूरियां बढ़ गई अौर उन्होंने अकाली दल ज्वाइन कर ली। पिछले विधानसभा चुनाव में दिनेश ढल्ल अाजाद खड़े हुए थे, जिसका नुकसान हैनरी को हुअा अौर भाजपा के केडी भंडारी जीत गए थे। अब हाल ही में ढल्ल बंधु अकाली दल छोड़कर फिर से कांग्रेस में अा गए हैं। इस संबंध में जब हमारे संवाददाता ने पार्षद अमित ढल्ल तथा पूर्व पार्षद दिनेश ढल्ल से बात की तो उन्होंने कहा कि हम कांग्रेस में हैं और हमें पूर्ण विश्वास है कि पार्टी हाईकमान हमें नजरअंदाज नहीं कर सकता। हमारा पिछला ट्रेक रिकार्ड को देखते हुए टिकट हमें ही मिलेगी। जब उनसे पूछा गया कि लोगों का कहना है कि अगर उन्हें कांग्रेस टिकट नहीं देती तो क्या वह आजाद उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ेंगे तो उनका कहना था कि इस पर विचार किया जाएगा। पार्षद अमित ढल्ल ने कहा कि जनता उनसे अथाह प्यार करती है जिसके चलते ही वह आजाद उम्मीदवार के तौर पर पार्षद का चुनाव जीते थे। जनता का फैसला माना जा सकता है।

Congress ignored the views Dll brothers then be free to fight
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment