नेल पालिश खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान

Keep nail polish while buying these things. share via Whatsapp

इंडिया न्यूज सेंटर: लड़कियां अपने हाथों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए नेलपॉलिश का इस्तेमाल करती हैं। मार्किट में नेलपॉलिश कई ब्रांड में उपलब्ध है और लड़कियां भी बढ़िया ब्रांड की नेलपॉलिश लेना पसंद करती हैं। कई बार नेलपॉलिश का यूज करने से नाखूनों का रंग पीला पड़ने लगता है लेकिन क्या आप इसके पीछे का कारण जानते है? दरअसल, नेल पॉलिश में कई कैमिकल्स होते हैं जो स्किन और हैल्थ दोनों पर बुरा प्रभाव डालते है। आज हम आपको नेलपॉलिश में मौजूद एेसे तत्वों के बारे में बताएंगे जो शरीर के लिए हानिकारक होते है।

-टोल्यूनि

टोल्यूनि नाखूनों पर नेल पॉलिश के रंग को लंबे समय तक बरकरार रखता है लेकिन इससे केंद्रीय तंत्रिका तंत्र(Central nervous system) पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इस तरह की नेलपॉलिश का इस्तेमाल करने से सिरदर्द और थकावट जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

- फॉर्मल्डेहाइड

यह एक कलरलेस गैस होती है जो नेलपॉलिश को लंबे समय तक स्टोर रखने में मदद करती है। अगर आपको किसी तरह की इलर्जी है तो इसके संपर्क में आने से त्वचा में सूजन आ सकती है। इसके अलावा कैंसर भी हो सकता है।

- Dibutyl Phthalate
इसका इस्तेमाल अच्छी खुशबू के लिए किया जाता है लेकिन इससे कई खतरनाक बीमारियां हो सकती है। इससे एन्डोक्राइन डिसआर्डर(endocrine disorders) या फिर सांस संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

कैसे चुने एक अच्छा नेल पॉलिश

हमेशा नेलपॉलिश लेते समय उसमें इस्तेमाल किए कैमिकल्स के बारे में जरूर पढ़ें। अगर इसपर 5-Free लिखा हो तो इसका मतलब इसमें फॉर्मल्डेहाइड नहीं है। वहीं, अगर इस पर 3-Free लिखा हो तो इसका मतलब इसमें तीनों हानिकारक तत्वों का इस्तेमाल नहीं किया गया।

Keep nail polish while buying these things.
Source: INDIANEWSCENTRE

Leave a comment





10
11

Latest post