बिंदी मात्र एक श्रृंगार वस्तु नहीं है

Makeup is not the only one dot share via Whatsapp

इंडिया न्यूज सेंटर, जयपुर: माथे पर लगी बिंदी सिर्फ सौंदर्य ही नही बढ़ाती बल्कि स्वास्थ्य के लिये भी बहुत लाभकारी होती है। आइए जानते हैं इससे होने वाले फायदों के बारे में... 

1. बिंदी लगाने से चेहरे के मसल्स में रक्त का प्रवाह बढ़ता है। इससे मसल्स लचीले होते हैं और झुर्रियां कम होती हैं।

2. बिंदी को दो भौंह के बीच लगाया जाता है। जहां शरीर के सभी नसें एक जगह मिलती हैं। इसको अग्नि चक्र कहते हैं। इस जगह को तृतीय नेत्र भी कहते हैं। बिंदी लगाने से मन शांत और तनाव कम होता है।

3. एक्यूप्रेशर के अनुसार माथे के इस बिन्दु की मसाज करने से सिरदर्द से तुरन्त राहत मिलती है, क्योंकि इससे नसों और रक्त कोशिकाओं को आराम मिलता है।

4. इस प्वाइंट को मसाज करने पर रक्त का संचालन नाक के आस-पास अच्छी तरह से होने लगता है जिससे साइनस के कारण सूजन कम हो जाता है और बंद नाक खुल जाता है। इससे बहुत आराम मिलता है।

5. भौंह के बीच का ये हिस्सा बेहद संवेदनशील होता है तनाव होने पर हमारा यही हिस्सा दुखने लगता है। बिंदी इसको शांत करके क्षति को पूर्ण करने में मदद करती है।

6. बिंदी लगाने से चेहरा, गर्दन, पीठ और शरीर के ऊपरी भाग के मसल्स को आराम मिलता है जिससे अनिद्रा की बीमारी से राहत मिलती है।

7. इस प्वाइंट की मसाज करने से चेहरे के नसें उत्तेजित हो जाती हैं और इस बीमारी के लक्षणों से राहत मिलती है। आयुर्वेद में इसको शिरोधरा कहते हैं। इसमें 40-60 मिनट तक मेडिकेटेड ऑयल को कपाल के इस बिन्दु में मसाज किया जाता है।

8. माथे के मध्य का ये केंद्रबिन्दु की नसें आँखों के मांसपेशियों से संबंधित होते हैं जो अगल-बगल देखने और स्पष्ट देखने में मदद करती हैं।

9. जो नस चेहरे के मसल्स को उत्तेजित करती है वह कान के भीतर के मसल्स से सुदृढ़ करके कान को स्वस्थ रखने में मदद करती है।

Makeup is not the only one dot
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment





10
11

Latest post