बैंक कर्मचारियों की माध्यम से बेची जा रही है लोगों की बैंक डिटेल

Bank's delivery of people is being sold through the staff share via Whatsapp

-दिल्ली पुलिस का खुलासा महज 20 पैसे में हो रहा था सौदा


इंडिया न्यूज सेंटर, नई दिल्लीः

दिल्ली पुलिस ने एक करोड़ लोगों के बैंक खाते बेचे जाने का खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक बैंक की मिलीभगत से हो रहे इस गोलमाल में लोगों की डिटेल महज 10 से 20 पैसे में बेची जा रही थी दिल्ली साउथ ईस्ट के डीसीपी आर बानिया ने के मुताबिक यह गैंग बैंक अकाऊंट, क्रैडिट और डैबिट कार्ड के डिटेल्स, फेसबुक और व्हाट्सएप्प के डेटा को 10-20 पैसे प्रति ग्राहक के हिसाब से बेचता था। जानकारी के मुताबिक दिल्ली के ग्रेटर कैलाश में रहने वाली एक 80 साल की महिला के केस की जांच करते हुए पुलिस को यह अहम जानकारी मिली। महिला के क्रैडिट कार्ड से 1.46 लाख रुपए उड़ा लिए गए थे। इसी केस की जांच के दौरान पुलिस ने बैंक अकाऊंट्स की जानकारी बेचने वाले मॉड्यूल का पर्दाफाश किया। पुलिस को पता चला कि इस मॉड्यूल में बैंक में कार्यरत और कॉल सेंटर्स से जानकारी निकलवाई जाती थी और फिर उसे बेच दिया जाता था।
ऐसे फंसाते थे लोगों को जाल में
गैंग के मेंबर बैंक इम्प्लॉई बन लोगों को फोन करते थे और उनको CVV (कार्ड वेरिफिकेश वैल्यू) नंबर और OTP शेयर करने को कहते थे। इसके बाद वह उनके अकाऊंट से पैसे निकालने में कामयाब हो जाते थे। इनके पास पहले से बैंक अकाऊंट होल्डर की कुछ डिटेल होती थी जिससे लोग इन पर भरोसा कर फंस जाते थे। गैंग कार्ड ब्लॉक जैसे बहाने बना कर लोगों से पासवर्ड पता करता था।

Bank's delivery of people is being sold through the staff
Source: indianewscentre

Leave a comment





10
11

Latest post