मिलावटखोरी को रोकने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा मोबाईल फूड टेस्टिंग लैबोरेटरी की शुरूआत

PUNJAB CM FLAGS OFF MOBILE FOOD TESTING LABORATORY TO CHECK ADULTERATION share via Whatsapp

PUNJAB CM FLAGS OFF MOBILE FOOD TESTING LABORATORY TO CHECK ADULTERATION



इंडिया न्यूज सेंटर,चंडीगड़:
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में मिलावटी भोजन और पेयजलों के नमूनों की जांच करने के लिए आज एक मोबाइल फूड टेस्टिंग लैबोरेटरी को हरी झंडी देकर रवाना किया। इसके साथ ही उनके द्वारा राज्य में मोबाईल फूड टेस्टिंग लैबोरेटरी की शुरुआत कर दी गई है। केंद्र सरकार द्वारा फंड की गई यह प्रयोगशाला ‘फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्डज़ अथॉरिटी ऑफ इंडिया’ (एफ.एस.एस.ए.आई.) द्वारा निर्धारित दिशा-निर्देशों से जुड़ी हुई है और यह लैब दूध, पानी, खाने वाले तेल और रोज़मर्रा की खाने की अन्य वस्तुओं की जांच करने के लिए इस्तेमाल की जायेगी। इसके अतिरिक्त इस वैन को दूध में फैट की मात्रा, मिलावट वाले स्टार्च, सुकरोज़, यूरिया, माल्टोडेकस्ट्रिन, पीएच, टोटल डिज़ोल्वड सॉलिड, कंडक्टीविटी आदि अन्य केमिकल संबंधीे जांच करने के लिए आवश्यक सुविधाओं से लैस किया गया है। इस अवसर पर उपस्थित एफ.डी.ए अधिकारियों ने मौके पर उपस्थित मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री  ब्रह्म महिंदरा के साथ जानकारी साझी करते हुए बताया कि इस वैन में मौके पर ही सैंपल भरने और रिपोर्ट देने का प्रबंध किया गया है।
मुख्यमंत्री ने फूड एंड ड्रग ऐडमनिस्ट्रेशन की पहलकदमी की प्रशंसा करते हुए आशा व्यक्त कि की यह वैन खाद्य सुरक्षा के संबंध में लोगों में और अधिक जागरूकता पैदा करेगी। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री ब्रह्म महेंदरा ने बताया कि फूड टैस्टिंग लैबोरेटरियां हर जगह उपलब्ध नहीं हैं, जिसके चलते स्वास्थ्य विभाग ने लोगों को गुणवत्तापूर्ण भोजन उपलब्ध करवाने के लिए मोबाइल फूड टैस्ट लैबोरेटरियों की शुरुआत की है। उन्होंने बताया कि वैन को आधुनिक सुविधाओं से लैस किया गया है। इसमें मिल्क ऐनालाईजऱ, हॉट ऐयर ओवन, हॉट प्लेट, मिक्सर-ग्राईंडर, डिजिटल वेइंग स्केल, डिजिटल मल्टी पैरामीटर हैंड-हैल्ड मीटर, डिजिटल रीफ्रैक्टोमीटर आदि उपलब्ध करवाए गए हैं। महिंदरा ने कहा कि यह वैन राज्य की एफ.डी.ए को अपने आऊटरीच प्रोग्रामों को बढ़ाने और दूर-दराज के क्षेत्रों में भी जांच गतिविधियंा करने में सहायता करेगी। उन्होंने आगे कहा कि और ऐसी वैनें जल्द ही आने वाले समय में लांच की जाएंगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने एक ऐंड्रॉयड मोबाइल एप ‘फूड सेफ्टी पंजाब’ भी लांच किया, जो मुफ़्त है और गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। यह एप्लीकेशन नागरिकों को विभिन्न उपभोग वाली वस्तुओं की तेज जांच के साथ-साथ मिलावट का पता लगाने के लिए दिशा-निर्देश देता है तथा सुरक्षित और पोशक भोजन संबंधीे जानकारी भी प्रदान करता है। इसके साथ रजिस्ट्रेशन/लाईसंस के लिए ऑनलाइन आवदेन करने की सुविधा भी दी गई है। इस अवसर पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव श्रीमती अंजली भावड़ा, कमिश्नर फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन श्री वरुण रूजम और नोडल अधिकारी (खाद्य) डा. अमृतपाल वडि़ंग तथा स्वास्थ्य विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

PUNJAB CM FLAGS OFF MOBILE FOOD TESTING LABORATORY TO CHECK ADULTERATION
India News Centre

India News Centre

Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment





10
11

Latest post