मुख्य सचिव द्वारा डिप्टी कमीश्नरों को राज्य में रोज़ाना 30 हज़ार आर.टी.पी.सी.आर. टेस्टिंग यकीनी बनाने के निर्देश

ENSURE MAINTENANCE OF RTPCR TESTING 30,000 DAILY IN THE STATE, CHIEF SECRETARY DIRECTS DEPUTY COMMISSIONERS share via Whatsapp


ENSURE MAINTENANCE OF RTPCR TESTING 30,000 DAILY IN THE STATE, CHIEF SECRETARY DIRECTS DEPUTY COMMISSIONERS

 Asks DCs to speed up of development works and schemes, earlier slowed down due to COVID situations, in Patiala Division


-पटियाला डिविजऩ में कोविड के कारण धीमी हुई विकास कार्यों और स्कीमों की रफ़्तार में तेज़ी लाने के लिए कहा

इंडिया न्यूज सेंटर,चंडीगढ़ /पटियाला:
अगले वर्ष के शुरू में कोविड-19 महामारी की वैक्सीन की उपलबधता की संभावनाओं के मद्देनजऱ, पंजाब की मुख्य सचिव श्रीमती विनी महाजन ने डिप्टी कमीश्नरों को निर्देश दिए कि कोविड वैक्सीन की पहुँच हर एक व्यक्ति तक यकीनी बनाने के लिए ज़मीनी स्तर पर टीमों का अग्रिम तौर पर गठन किया जाए। इसके साथ ही उन्होंने महामारी की दूसरी लहर की संभावना प्रकट करते हुए राज्य में कोविड

आर.टी.पी.सी.आर. टेस्टिंग प्रतिदिन 30 हज़ार करने के लिए कहा। पटियाला डिविजऩ की समीक्षा मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए मुख्य सचिव ने यह भी निर्देश दिए कि कोविड के कारण विकास कामों और स्कीमों की धीमी हुई रफ़्तार में भी तेज़ी लाई जाये और इनको निश्चित समय के अंदर -अंदर पूरा किया जाये।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के आदेशों पर समूचे पंजाब में चल रहे इन विकास प्रोजेक्टों और महत्वपूर्ण योजनाओं की ताज़ा स्थिति का जायज़ा लेते हुए मुख्य सचिव ने अधिकाारियें को आदेश दिए कि इस साल दिसंबर के आखिर तक सरकारी स्कूलों और आंगनवाडिय़ों में पाखानों की सुविधा उपलब्ध करवाना यकीनी बनाई जाये।

विकास कामों और स्कीमों को निर्धारित समय में मुकम्मल करवाने के लिए डिविजऩल हैडक्वार्टरों पर की जा रही मीटिंगों की लड़ी में पटियाला डिविजऩ के डिप्टी कमीश्नरों और इंचार्ज प्रशासनिक सचिवों के साथ मीटिंग करते हुए श्रीमती विनी महाजन ने गरीब वर्ग और किसान वर्ग के लिए पंजाब सरकार की तरफ से बनाईं दो विशेष योजनाएँ जिनमें गरीब बस्तियों में सरकारी मालकी वाली जगह पर रहने वाले लोगों की पंजाब स्लम डवेलर्ज़ (प्रोप्राईटरी राईटज़) एक्ट 2020 के अंतर्गत पहचान करने में तेज़ी लाने के भी आदेश दिए। उन्होंने साथ ही पंजाब अलॉटमैंट ऑफ स्टेट गवर्नमैंट लैडज़ एक्ट 2020 के अंतर्गत 20 साल से अधिक समय से काबिज़ भूमि रहित, माजिऱ्नल और छोटे किसानों को मालकी हक देने के लिए सर्वेक्षण को जल्द मुकम्मल करके अमली रूप देने के लिए भी कहा।

मीटिंग दौरान गाँवों के जल सप्लाई घरों और स्कूलों आदि के बकाया बिजली बिलों के पंचायतों के द्वारा निपटारे के आदेश देते हुए उन्होंने डिप्टी कमीश्नरों को इस पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा। उन्होंने गाँवों में कुत्तों की समस्या से निपटने के लिए पंचायतों के स्तर पर कुत्तों का स्टरलाईजेशन करवाने के लिए भी हिदायत की।

श्रीमती विनी महाजन ने अगले साल आने वाले सीजन दौरान पराली के बिना आग लगाए निपटारे के लिए अभी से ठोस योजनाएं बनाने और किसानों को पराली प्रबंधन के लिए अपेक्षित और खेती मशीनरी बारे भी रिपोर्ट भेजने के लिए कहा। उन्होंने स्मार्ट विलेज कम्पेन और अर्बन इन्वायरनमैंट इम्प्रूवमैंट प्रोग्राम के दूसरे पड़ाव के अंतर्गत दिए गए विकास अनुदानों को समय पर विकास कामों पर ख़र्चना यकीनी बनाने के लिए कहा।

मुख्य सचिव ने जल जीवन मिशन-हर घर पानी के अंतर्गत गाँवों में अधिक से अधिक वाटर स्पलाई के कुनैक्शन और स्कीमें यकीनी बनाने के लिए कहा जिससे लोगों को पीने के लिए साफ़ पानी उपलब्ध हो सके। जिलों के डिप्टी कमीश्नरों से विकास कामों की समीक्षा के दौरान डिप्टी कमिश्नर पटियाला कुमार अमित की तरफ से जि़ले में चल रहे अहम विकास प्रोजेक्टों, जिनमें पटियाला को 24 घंटे-सात दिन दी जाने वाली नहरी पानी की सप्लाई के 500 करोड़ रुपए के प्रोजैक्ट, महेन्द्रा कोठी में 2.93 करोड़ रुपए के साथ बनने वाली मैडल गैलरी, बस स्टैंड के 61 करोड़ रुपए के प्रोजैक्ट, 500 करोड़ रुपए के साथ बनने वाली महाराजा भुपिन्दर सिंह पंजाब खेल यूनिवर्सिटी के पहले चरण का काम, हेरिटेज स्ट्रीट के 43 करोड़ रुपए के प्रोजैक्ट, छोटी नदी और बड़ी नदी के सौंदर्यीकरण के लगभग 200 करोड़ रुपए के प्रोजैक्ट, जैकब ड्रेन और इस्टर्न ड्रेन के प्रोजैक्ट, राजिन्द्रा झील के 500 करोड़ रुपए की लागत के साथ किये गए नवीनीकरण के प्रोजैक्ट, शहर में एल.ई.डी. लाइटों के प्रोजैक्ट, ठोस कूड़ा प्रबंधन के अंतर्गत भूमिगत कूड़ादानों के प्रोजैक्ट, सनौर रोड स्थित कूड़े के डम्प के निपटारे के प्रोजैक्ट, प्रधान मंत्री शहरी आवास योजना के अंतर्गत 126 मकानों के किए गए आवंटन संबंधी बताया गया। लुधियाना के डिप्टी कमिश्नर वरिन्दर कुमार की तरफ से लुधियाना में बन रही हाईटेक साइकिल वैली, लुधियाना इंडस्ट्रियल पार्क कूम कलाँ, बूढ्ढा नाले की सफ़ाई और नवीनीकरण के प्रोजैक्ट, लुधियाना शहर को 24 घंटे -सात दिन नहरी पानी की सप्लाई प्रोजैक्ट, दिल्ली-अमृतसर-कटरा ऐक्सप्रैस वे की प्रगति, फिऱोज़पुर से सिद्धवां केनाल, सिद्धवां केनाल से भारत नगर चौक के काम की प्रगति, चीमा चौक फ्लाईओवर और लाडोवाल बाईपास बारे विस्तार में जानकारी दी गई।
संगरूर के डिप्टी कमिश्नर रामबीर की तरफ से जि़ले में सीधी बिजाई के सफल तजुर्बे, मालेरकोटला में बनने वाले मैडीकल कॉलेज और दिल्ली-अमृतसर-कटरा ऐक्सप्रैस वे की ज़मीन अधिग्रहण के बारे में अवगत करवाया गया। मुख्य सचिव ने संगरूर में चल रहे होमी भाभा कैंसर केयर सैंटर और पीजीआयी सैटेलाइट सैंटर बारे भी जानकारी हासिल की।

बरनाला और फ़तेहगढ़ साहिब के डिप्टी कमीश्नरों तेज प्रताप सिंह फुलका और अमृत कौर गिल के साथ दोनों जिलों के विकास कार्यों बारे समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि समूह जिलों के डी.सी. अपने-अपने जि़लो में स्थित गौशालाओं का समय-समय पर मुल्यंाकन करने और सामथ्र्य को बढ़ाने के लिए आस-पास की पंचायतों का सहयोग ले रहे हैं। बरनाला के डीसी ने इस मौके पर बताया कि उनके जि़ले में लिंग अनुपात पिछले साल के 895 के मुकाबले इस साल 965 पर पहुंच गया है।

बाद में पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान श्रीमती विनी महाजन ने बताया कि उनके द्वारा कोविड-19 के बाद विकास कार्यों में आई बाधा को दूर करने के लिए निजी तौर पर हर डिविजऩल हैडक्वार्टर पर जाकर उस डिविजऩ में पड़ते डिप्टी कमीश्नरों के साथ मीटिंग की जा रही है और उन्हें जिलों में चल रहे प्रोजेक्टों को युद्ध स्तर पर निपटाने की हिदायतें की जा रही हैं। उन्होंने कोविड के प्रसार को रोकने बारे पंजाब सरकार के प्रबंधों संबंधी पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि पंजाब आर.टी.पी.सी.आर. टैस्टों के मामले में सर्वोत्तम प्रदर्शन दिखाने वाले देश के पहले 3 राज्यों में शुमार है और सरकार की तरफ से टैेस्टिंग सामथ्र्य 30 हज़ार प्रति दिन तक बढ़ाई गई है। उन्होंने बताया कि सरकार की तरफ से राज्य में स्तर दो और स्तर तीन कोविड केन्द्रों को मज़बूत किया जा रहा है और सरकारी और निजी केन्द्रों में 30 प्रतिशत ज़्यादा सामथ्र्य की वृद्धि की गई है।

मीटिंग के दौरान इन अतिरिक्त मुख्य सचिव विश्वजीत खन्ना, अतिरिक्त मुख्य सचिव एनआरआई मामले कृपा शंकर सरोज, सचिव पर्सोनल विवेक प्रताप सिंह और कमिश्नर पटियाला डिविजऩ के कमिश्नर चंद्र गैंद, स्टाफ अफ़सर साक्षी साहनी भी मौजूद थे।

 

ENSURE MAINTENANCE OF RTPCR TESTING 30,000 DAILY IN THE STATE, CHIEF SECRETARY DIRECTS DEPUTY COMMISSIONERS
OJSS Best website company in jalandhar
India News Centre

India News Centre

India News Centre

India News Centre

Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment






11

Latest post