लॉकडाउन 4.0 की तैयारी शुरू, अमित शाह ने गृह मंत्रालय के अधिकारियों संग की बैठक

Preparations for Lockdown 4.0 begin, Amit Shah meets Home Ministry officials share via Whatsapp

Preparations for Lockdown 4.0 begin, Amit Shah meets Home Ministry officials

नेशनल न्यूज डेस्कः
देश में लॉकडाउन 4.0 की तैयारी शुरू हो गई है। इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को चौथे लॉकडाउन के लिए दिशानिर्देशों की घोषणा से पहले अधिकारियों के साथ बैठक की। सोमवार से लॉकडाउन 4.0 लागू होना है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि वरिष्ठ अधिकारी लॉकडाउन 4.0 के दिशा-निर्देशों को अंतिम रूप देने में जुटे हुए हैं। केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को पत्र लिख कर यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि सड़कों पर या रेलवे ट्रैक पर प्रवासी मजदूरों की आवाजाही न हो। यदि प्रवासी श्रमिक सड़कों पर पैदल चलते पाए जाते हैं, तो उन्हें पास के आश्रय गृह में ले जाया जाए और उनके भोजन-पानी की जिम्मेदारी राज्य सरकारों को ऊपर होगी। राज्यों की जिम्मेदारी होगी कि वे फंसे हुए प्रवासी कामगारों की आवाजाही की सुविधा प्रदान करें जो अपने गृह राज्यों में जाने के इच्छुक हैं। सरकार ने प्रवासी मजदूरों के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं।
लॉकडाउन की कर रहे हैं वकालत
आवाजाही  बढ़ेगी तो संक्रमण का खतरा बढ़ेगा। यह डर राजस्थान, बिहार, झारखंड, उड़ीसा,पश्चिम बंगाल, तेलंगाना को है। पंजाब के मुख्यमंत्री का भी मानना है कि अभी अधिक आवाजाही शुरू करने का समय नहीं आया है। महाराष्ट्र, असम भी आवाजाही में अधिक ढील दिए जाने के पक्ष में नहीं हैं। हलांकि महाराष्ट्र ने मजदूरों के लिए मुंबई में लोकल ट्रेन चलाने की मांग की थी। महाराष्ट्र मुंबई, पुणे और उपनगरीय क्षेत्रों में पाबंदी का पक्षधर है। गुजरात आर्थिक गतिविधियां शुरू करने के पक्ष में है, लेकिन जिला केंद्रों को लेकर संवेदनशील है। तमाम राज्यों में दूसरे राज्यों से किसी कारण से आए लोग लॉकडाउन के बाद से फंसे हैं। लगभग सभी राज्य चाहते हैं कि इन लोगों को अपने मूल राज्य में जाने की इजाजत दे दी जाए। इसके लिए रेल, टैक्सी या सीमित संख्या में सही आटोरिक्शा के चलने की इजाजत दी जाए।
क्या खुलेंगे और क्या अभी रह सकते हैं बंद
अधिकारियों के अनुसार नाई की दुकान, स्पॉ, मॉल या मार्केट कांप्लेक्स, स्कूल, सिनेमा हॉल को खोले जाने की गुंजाइश कम है। आटो, टैक्सी, परिवहन सेवा को शर्तों के साथ सीमित पैमाने पर खोला जा सकता है। रेस्टोरेंट आदि होम डिलीवरी सेवा के साथ ही चलने के आसार हैं। होटल व्यवसाय को अभी इंतजार करना पड़ सकता है। किराना, दवाई, सब्जी, जनरल स्टोर, कॉपी किताब, बिजली या इलेक्ट्रानिक दुकानों के साथ-साथ अब कपड़े, प्लास्टिक , गिफ्ट आइटम समेत अन्य को शर्तों के साथ खोलने की अनुमति मिल सकती है।

इसके लिए ऑड-ईवन या फिर क्षेत्रवार जैसा कोई निर्णय हो सकता है। हवाई सेवा को शुरू करने के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय तैयारी कर रहा है। एयर इंडिया ने फ्लाइट का शेड्यूल बनाना शुरू किया है। रेलवे और मेट्रो रेल सेवा को धीरे-धीरे तैयारी के साथ खोला जा सकता है। अंतरराज्यीय बस सेवा को शुरू करने को लेकर केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्रालय भी तैयार है, लेकिन अभी कोई अंतिम राय नहीं बन सकी है। लेकिन राज्य में जिला स्तर पर शर्तों के साथ बसें चल सकती हैं।

Preparations for Lockdown 4.0 begin, Amit Shah meets Home Ministry officials
OJSS Best website company in jalandhar
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment






11

Latest post