श्रद्धा व हर्षोल्लास से मनाया गया क्रिसमस

innocent school jalandhar
Christmas was celebrated with faith and enthusiasm share via Whatsapp

विनसैंट फ्रैंक्लिन, जालंधर: दुनियर भर में क्रिसमस का त्यौहार बड़ी श्रद्धा व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया, जालंधर के विभिन्न चर्चज में भी इसे धूमधाम से मनाया गया। इस दिन को प्रभु यीशु मसीह के जन्म दिवस के रूप में मनाया जाता है। ऐसा माना जाता है कि प्रभु यीशु परमात्मा के पुत्र हैं और उन्हें मानव जाती के कल्याण, शांती का संदेश व आपसी प्रेम व भाईचारे को बढ़ावा देने के लिए धरती पर भेजा गया। इस दिन उनके जन्म की घटना का नाटकीय रूपांतर प्रस्तुत किया जाता है। इसके अलावा दिसंबर का पूरा महीना लोगों के घरों में चर्च की क्वायर (संगीत मंडली) रात को कैरल सिंगिग के लिए जाती है और प्रभु यीशु के जन्म से सम्बंधित गीत गाकर खुशियां मनाई जाती हैं। मिशन कम्पाऊंड में स्थित गोलक नाथ मैमोरियल चर्च में इसे एक तीन दिवसीय उत्सव के रूप में मनाया जाता है। 2३ दिसंबर को क्रिसमस ड्रामा दिखाया गया जिसमें प्रभु यीशु की शिक्षाओं पर रौशनी डाली गयी। इसका निर्देशन वाल्टर वीर सिंह ने किया। नाट्क की प्रस्तुती के बाद रात को प्रीती भोज का आयोजन किया गया। 24 दिसंबर शाम को चर्च के बच्चों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया जिसमें बच्चों ने बाईबल की शिक्षाओं पर आधारित स्किट्स व रंगबिरंगे कपड़ों में विभिन्न डांस प्रस्तुत किए। इन कार्यक्रमों को तैयार करने में मीनाक्षी व उनकी बेटी तान्या का सराहनीय योगदान रहा। सांता क्लाज ने बच्चों व बड़ों को तोहफे दिए। इस मौके पर जालंधर केंद्र से कांग्रेस के विधान सभा प्रत्याशी राजिंदर बेरी, स्थानीय कौंसलर राज कुमार राजा विशेष अथिति के रूप में उपस्थित हुए। उनका स्वागत चर्च के पादरी तनवीर उल हक, चर्च सैक्रेटरी अनिल सोनी व श्रीमती रेणुका भट्टी ने किया। कार्याक्रम का आयोजन खुले में अलाव जलाकर उसके समक्ष किया गया और उपस्थित लोगों के लिए चाय पानी का इंतजाम किया गया। इसके बाद मध्य रात्री को चर्च में प्रभु यीशु के जन्म के समय प्रार्थना का आयोजन किया गया इसके बाद लोगों ने एक दूसरे को क्रिसमस की बधाई दी। 25 दिसंबर को पारम्परिक रूप से प्रार्थना सभा हुई और इसके बाद खुले लंगर का आयोजन किया गया। हजारों की संख्या में लोगों ने इस लंगर को ग्रहण किया और एक दूसरे को हैप्पी क्रिसमस कह कर बधाईयां दी और एक दूसरे की सलामती के लिए कामना की।

Christmas was celebrated with faith and enthusiasm
India News Centre

India News Centre

India News Centre

India News Centre

Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment