सरहदी क्षेत्रों में 2.5 करोड़ रुपए की लागत से पुलिस का बुनियादी ढांचा किया जाएगा मज़बूत: डी.जी.पी अरोड़ा

Police infrastructure in border areas to be strengthened at a cost Rs. 2.5 crore : DGP Arora share via Whatsapp

Police infrastructure in border areas to be strengthened at a cost Rs. 2.5 crore : DGP Arora

·        Absconding gangsters under radar,

·        Says zero tolerance towards corruption, AIG Uppal suspended

·        Sensitizes border range police officers to curb illicit trafficking

भगौड़े गैंग्स्टरों पर रखी जा रही है तीखी नजऱ

कहा, भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं, ए.आई.जी उप्पल निलंबित

नाजायज तस्करी पर रोक लगाने के लिए सरहदी रेंज के पुलिस अफसरों को हिदायत


इंडिया न्यूज सेंटर,चंडीगढ़:
सूबे में पुलिस के बुनियादी ढांचे को मज़बूती प्रदान करने के लिए पंजाब के डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस  सुरेश अरोड़ा ने आज हिदायतें देते हुए कहा कि सांझ फंडों में से 2.5 करोड़ रुपए की रकम सरहदी पुलिस जिलों को जारी की जाये जिसकी मंज़ूरी मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने दी थी और जिसका इस्तेमाल सरहदी क्षेत्रों में उपकरणों की खरीद, पुलिस थानों बैरकों के निर्माण/नवीनीकरण के लिए किया जाना है। इस मौके पर डीजीपी अरोड़ा ने जानकारी देते हुए बताया कि सूबे में नशाखोरी और नाजायज तस्करी को रोकने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से चलाई विशेष मुहिम से सूबा सरकार की तरफ से नशों की बुराई को रोकने के लिए इनफोर्समैंट, डी -अडिकशन और प्रीवैंशन (ईडीपी) नाम की एक तीन धारी योजना बनाई गई है। यह जानकारी पंजाब के डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस  सुरेश अरोड़ा ने गुरदासपुर में एक विशेष मीटिंग के दौरान साझी की। इस मीटिंग में डीजीपी एसटीएफ पंजाब,  मोहम्मद मुस्तफा, एडीजीपी कानून और व्यवस्था,  ईश्वर सिंह, आईजीपी एसटीएफ, आर.के. जैसवाल, आईजीपी बार्डर रेंज, अमृतसर, सुरिन्दरपाल सिंह परमार, एसएसपी, पठानकोट  विवेक शील सोनी, एस.एस.पी, गुरदासपुर,  स्वरनदीप सिंह, एसएसपी, बटाला,  उपिन्दरजीत सिंह घुमन और गुरदासपुर, पठानकोट और बटाला जिलों के सभी गज़टिड अफ़सर और एस.एच.ओज़ मौजूद थे। उन्होंने कहा कि पंजाब पुलिस और एसटीएफ एक ही विभाग के दो विंग हैं, जिसकी तरफ से मिलजुलकर पंजाब में से नशों की बुराई को दूर करना, तस्करों को गिरफ्तार करना और कड़ी सज़ाएं दिलाने की कोशिशों को यकीनी बनाया जा रहा है। उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि तस्करों द्वारा ऐसे काले धंधों से बनाईं जायदादों को भी बहुत जल्द ज़ब्त किया जायेगा। नशों और भ्रष्टाचार को न बर्दाश्त करने का प्रण दोहराते हुए उन्होंने चेतावनी दी कि जो तत्व सूबे के नौजवानों का शोषण करके उनको बर्बाद कर रहे हैं और बेनियमियां कर रहे हैं, उनको किसी भी कीमत पर बक्शा नहीं जायेगा। श्री अरोड़ा ने कहा कि ए.आई.जी. क्रईम रणधीर सिंह उप्पल को नैतिक कारणों और ड्यूटी से ग़ैर -हाजिर रहने के कारण अपराधिक मुकदमो का सामना करने के चलते निलंबित किया गया है। उन्होंने सभी जि़ला पुलिस अफसरों को सभी भगौड़ों, तस्करों और गुनाहगारों की सूचियां बनाने के लिए कहा जिससे इन पर कड़ी नजऱ रखी जा सके। सभी अधिकारियों को नियमित रूप में नशाखोरी से सम्बन्धित विषयों पर शैक्षिक संस्थाओं, मुहल्लों और गाँवों में सैमीनार करने की हिदायत की गई है जिससे नौजवानों को नशों के हानिकारक प्रभावों से अवगत करवाकर एक ह्रष्ट-पुष्ट समाज की सृजना की जा सके। उन्होंने कहा कि नये स्पोर्टस क्लब खोलने की ज़रूरत है जिससे नौजवानों को नशों के रास्ते से मोडक़र खेल की तरफ प्रेरित किया जा सके। पिछले दिनों पाकिस्तानी सरहद के नज़दीक पाक आतंकवादियों द्वारा की गई घुसपैठों और मुठभेड़ों के मद्दे नजऱ पंजाब पुलिस द्वारा इस अंतरराष्ट्रीय सीमा पर किसी भी आतंकवादी गतिविधियों जैसी अप्रिय घटनाओं को टालने के उद्देश्य से पुख़ता प्रबंध किये गए हैं। इसके साथ ही भगौड़े हुए गैंगस्टरों को काबू करने के लिए भी कोशिशें की जारी हैं और इस सम्बन्ध में उनके गुप्त ठिकानों और सहभागियों पर नजऱ रखी जा रही है। डीजीपी ने जनता में अच्छी साख बनाने के लिए पुलिस अफसरों को अपनी ड्यूटी इमानदारी और जि़म्मेदारी से करने की हिदायत की जिससे नशों को ख़त्म करने के लिए लोगों से सहयोग लिया जा सके।

Police infrastructure in border areas to be strengthened at a cost Rs. 2.5 crore : DGP Arora
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment





10
11

Latest post