इंडस्ट्री के सी-फार्म समेत कई मुद्दे हल करने के लिए जल्द आएगी वन टाइम सैटलमेंट पॉलिसीः सुंदर शाम अरोड़ा

OTS POLICY IS ON CARDS TO SETTLE THE ISSUE OF C-FORMS AND OTHERS - CABINET MINISTER SUNDER SHAM ARORA share via Whatsapp

OTS POLICY IS ON CARDS TO SETTLE THE ISSUE OF C-FORMS AND OTHERS - CABINET MINISTER SUNDER SHAM ARORA

MOVE AIMED AT ENSURING RELIEF TO THE INDUSTRY, INDUSTRIALISTS HAILS DECISION


RESUMPTION OF FREIGHT TRAINS A RELIEF FOR INDUSTRY WHICH WAS FACING PROBLEMS DUE TO STUCK OF GOODS WORTH RS 2000 CRORE

DESCRIBES INDUSTRY AS BACKBONE OF THE STATE’S ECONOMY

कहा, पंजाब सरकार उद्योग जगत को राहत पहुंचाने के लिए उठा रही है कई कदम, उद्यमियों ने की प्रशंसा

पंजाब में मालगाड़ियों का संचालन शुरू होने से इंडस्ट्री को मिलेगी बड़ी राहत, 2000 करोड़ रुपए की वैल्यू के साजो-सामान का होगा आदान-प्रदान

इंडस्ट्री को पंजाब की अर्थव्यवस्था की रीड़ की हड्डी करार दिया

इंडिया न्यूज सेंटर,जालंधरः
पंजाब के उद्योग व वाणिज्य मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा ने वीरवार को घोषणा की है कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंदर सिंह की अगवाई में पंजाब सरकार की तरफ से जल्द ही उद्यमियों के सी-फार्म व रिफंड से संबंधित अन्य मसलों के समाधान के लिए वन टाइम सैटलमेंट (ओटीएस) पॉलिसी लाई जा रही है, जिसे एक-दो दिन में खुद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंदर सिंह लांच करेंगे। उन्होंने जिला प्रशासकीय काम्पलेक्स में उद्यमियों से विचार-चर्चा के बाद अपने संबोधन में कहा कि यह स्कीम उद्यमियों को काफी राहत प्रदान करेगी और उनके ज्यादातर मसले इस स्कीम के बाद हल हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि संबंधित विभागों की तरफ से पॉलिसी को अंतिम रूप देने के लिए लगातार काम किया जा रहा है और इससे उनकी सी-फार्म से संबंधित सारी समस्याओं का निदान होगा।

सांसद चौधरी संतोख सिंह, एमएलए परगट सिंह, सुशील कुमार रिंकू, अवतार हैनरी जूनियर (बावा हैनरी), राजिंदर बेरी, सुरिंदर चौधरी, हरदेव सिंह लाड्डी शेरोंवालिया, डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी की मौजूदगी में अरोड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंदर सिंह पंजाब की इंडस्ट्री के साथ चट्टान की तरह खड़े हैं और यह उन्हीं के प्रयासों की बदौलत है कि पंजाब में मालगाड़ियों का संचालन दोबारा शुरू हो रहा है।

उन्होंने कहा कि मालगाड़ियां बंद होने की वजह से पंजाब की इंडस्ट्री को काफी नुकसान झेलना पड़ रहा है, जिसकी वजह से करीब 2 हजार करोड़ रुपए कीमत के उत्पाद फंस गए हैं। तैयार माल बाहर नहीं भेजा जा सकता और कच्चा माल पंजाब में नहीं आ पा रहा। उन्होंने पंजाब की इंडस्ट्री को अर्थव्यवस्था की रीड़ की हड्डी करार देते हुए कहा कि सरकार इंडस्ट्री की उन्नति के लिए चट्टान की तरह खड़ी है।

उद्योग मंत्री ने कहा कि साल 2017 में जब से कैप्टन सरकार बनी है, तब से एक-एक करके इंडस्ट्री की दिक्कतों का समाधान किया जा रहा है और पंजाब की इंडस्ट्रियल पॉलिसी इस दिशा में मील का पत्थर साबित हो रही है। इस दौरान उद्योग मंत्री ने जालंधर के हैंड टूल्स, लेदर, स्पोर्ट्स, ऑटो पार्ट्स, सर्जीकल गुड्स, कपड़ा व अन्य उत्पाद बनाने वाली इंडस्ट्रीज के प्रतिनिधियों की समस्याएं सुनीं और उनका मौके पर ही समाधान करने की कोशिश की। इस मौके पर निगम कमिश्नर करनेश शर्मा, एडीसी विशेष सारंगल, एडीसी जसबीर सिंह, डीसीपी अरुण सैनी, एसडीएम राहुल सिंधू, निगम के ज्वाइंट कमिश्नर हरचरण सिंह, पुडा ईओ नवनीत कौर बल, जीएम इंडस्ट्री सुखपाल सिंह, खादी बोर्ड के डायरेक्टर मेजर सिंह, मलविंदर सिंह लक्की व अन्य मौजूद थे।

OTS POLICY IS ON CARDS TO SETTLE THE ISSUE OF C-FORMS AND OTHERS - CABINET MINISTER SUNDER SHAM ARORA
OJSS Best website company in jalandhar
India News Centre

India News Centre

India News Centre

India News Centre

India News Centre

India News Centre

Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment






11

Latest post