किसान आंदोलनः वार्ता के लिए विज्ञान भवन पहुंचे किसान,पांचवीं दौर की बैठक होगी सरकार के साथ

Farmers Movement: Farmers reach Vigyan Bhawan for talks, fifth round meeting to be held with government share via Whatsapp

Farmers Movement: Farmers reach Vigyan Bhawan for talks, fifth round meeting to be held with government


निखिल शर्मा,नई दिल्लीः
कृषि कानून के खिलाफ किसानों का 10वें दिन भी विरोध जारी है। दिल्ली बॉर्डर पर बैठे किसान संगठनों और सरकार के बीच आज पांचवें दौर की बातचीत होगी। वीरवार को हुई चौथे दौर की बातचीत में कोई सहमति नहीं बन पाई थी। किसान संगठन कानून को पूरी तरह वापस लेने पर अड़िग हैं। इसके लिए संसद का विशेष सत्र बुलाने की भी मांग की गई है।

किसानों की सरकार को चेतावनी मांग नहीं मानी, तो हम अपना आंदोलन जारी रखेंगे'
आजाद किसान संघर्ष समिति पंजाब के प्रदेश प्रमुख हरजिंदर सिंह टांडा ने कहा कि हम चाहते हैं कि कानूनों को वापस लिया जाए। अगर सरकार ने हमारी मांग नहीं मानी, तो हम अपना आंदोलन जारी रखेंगे।

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर किसानों से बात करने के लिए पहुंचे

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर आंदोलनकारी किसानों से बातचीत करने के लिए विज्ञान भवन पहुंचे।

'हम कानूनों में संशोधन के लिए सरकार के प्रस्ताव को स्वीकार नहीं करेंगे'
केंद्र सरकार के साथ पांचवें दौर की बातचीत करने के लिए किसान प्रतिनिधि विज्ञान भवन पहुंच गए हैं। इस दौरान दोआबा किसान संघर्ष समिति के हरसुलिंदर सिंह कहते हैं कि हम चाहते हैं कि कानूनों को वापस लिया जाए। हम कानूनों में संशोधन के लिए सरकार के प्रस्ताव को स्वीकार नहीं करेंगे।

बल्लभगढ़ शहर में किसानों की एंट्री

हरियाणा में फरीदाबाद के बल्लभगढ़ शहर में किसान आंदोलन प्रवेश हो गया। इस दौरान किसानों ने बीजेपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

टिकरी और झरोडा बॉर्डर पूरी तरह बंद रहेगा
सिंंघु बॉर्डर से बसों में निकले किसान नेता विज्ञान भवन पहुंच चुके हैं। यहां किसान और सरकार की पांचवें दौर की बैठक होनी है। एक नेता ने यहां कहा कि हम तीनों कानूनों को वापस लेने से कम में कोई बात नहीं मानेंगे। इसके साथ ही हर बात लिखित रूप में ही मानी जाएगी, तभी आंदोलन खत्म होगा।

बिहार में गांधी मैदान में आरजेडी का प्रदर्शन

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल किसानों के समर्थन मेें गांधी मैदान में प्रदर्शन कर रही है। आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि हम केंद्र सरकार से अपील करते हैं काले कृषि कानून को वापस ले।

चिल्ला बॉर्डर पर किसानों के समर्थन में पहुंचे समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता


किसानों को कई पार्टियों की तरफ से समर्थन हासिल हो रहा है। आज सुबह ही जहां गाजीपुर बॉर्डर पर कांग्रेस के यूपी अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू पहुंचे, वहीं चिल्ला बॉर्डर पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता पहुंचे हुए हैं।

चिल्ला बॉर्डर पर पुलिस ने लगाए सीमेंटेड बैरिकेड
चिल्ला बॉर्डर पर स्थाई बैरिकेड लगाकर पुलिस ने बंद किया रास्ता।

राकेश टिकैत ट्रैक्टर से सरकार के साथ होने वाली मीटिंग में जानेे के लिए अड़े

दिल्ली में होने वाली मीटिंग में शामिल होने के लिए राकेश टिकैत ट्रैक्टर से जाने के लिए अड़े हैं। दिल्ली की तरफ तैनात पुलिस फोर्स ने उन्हें रोक लिया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि ट्रैक्टर की अनुमति दिल्ली में नहीं है, कार से ही मीटिंग में जाएं।

पीएम आवास पर बैठक खत्म
किसान आंदोलन को लेकर चर्चा के लिए आज पहली बार पीएम नरेंद्र मोदी के घर पर बैठक हुई जो करीब दो घंटे तक चली।

निरंकारी ग्राउंड में प्रदर्शन कर रहे किसानों को आज की बैठक से हैं बहुत उम्मीदें
निरंकारी समागम ग्राउंड में प्रदर्शन कर  रहे किसानों का कहना है कि हमें आशा है कि आज सरकार के साथ बैठक का सकारात्मक नतीजा निकलेगा। हम तब तक नहीं रुकेंगे जब तक सरकार हमारी मांगें नहीं मानेगी। हम अपने आंदोलन को और बड़ा बनाएंगे।

आज बातचीत का आखिरी दिन हैः किसान
कृषि कानूनों के खिलाफ टिकरी बाॅर्डर पर किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है। एक प्रदर्शनकारी ने कहा, 'सरकार बार-बार तारीख दे रही है, सभी संगठनों ने एकमत से फैसला लिया है कि आज बातचीत का आखिरी दिन है।'

चिल्ला बॉर्डर से आवाजाही बिल्कुल बंद
इस वक्त चिल्ला बॉर्डर से आवाजाही बिल्कुल बंद कर दी गई है। इससे पहले दिल्ली से नोएडा की ओर आने वाला रास्ता खुला हुआ था। दरअसल जेवर में टोल प्लाजा पर किसानों का काफिला रोका  लिया गया जिसके बाद चिल्ला बॉर्डर पर भारतीय किसान यूनियन (भानु) ने पुलिस प्रशासन को चेतावनी दी है कि किसानों को न रोकेंं अन्यथा जिम्मेदार पुलिस प्रशासन होगा। जेवर में किसानों को रोके जाने के विरोध में चिल्ला बॉर्डर पर भाकियू के प्रदेश अध्यक्ष योगेश प्रताप सिंह ने बॉर्डर बंद करने का आह्वान किया। इसके बाद अब चिल्ला बॉर्डर पूरी तरह से आवाजाही के लिए बंद हो गया है।

चिल्ला बॉर्डरः नोएडा से दिल्ली जाने वाला रास्ता बंद

नोएडा लिंक रोड के पास चिल्ला बॉर्डर से नोएडा से दिल्ली जाने वाला रास्ता बंद है क्योंकि गौतमबुद्ध द्वार पर किसान आंदोलन कर रहे हैं। लोगों को सलाह है कि वह नोएडा लिंक रोड आने की बजाय दिल्ली जाने के लिए डीएनडी का इस्तेमाल करें।

गाजीपुुर बॉर्डरः गाजियाबाद से दिल्ली जाने वाला रास्ता बंद

किसानों के प्रदर्शन के चलते एनएच 24 पर स्थित गाजीपुर बॉर्डर एक तरफ से बंद रहेगा। यहां गाजियाबाद से दिल्ली जाने वाला रास्ता किसानों के बैठने की वजह से बंद है। इसलिए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस का निवेदन है कि एनएच-24 पर जानें से बचें और दिल्ली जाने के लिए अप्सरा बॉर्डर/भोपरा/डीएनडी का उपयोग करें।
टिकरी और झरोडा बॉर्डर पूरी तरह बंद रहेगा
टिकरी, झरोडा बॉर्डर पूरी तरह से बंद रहेंगे। बदुसराय बॉर्डर हल्के वाहनों जैसे कार और दोपहिया वाहन के लिए खुला रहेगा।

मुकरबा और जीटी करनाल रोड से ट्रैफिक रहेगा डायवर्ट

मुकरबा और जीटी करनाल रोड से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया है। आउटर रिंग रोड, जीटी करनाल रोड और एनएच 44 पर जाने से बचें।

Farmers Movement: Farmers reach Vigyan Bhawan for talks, fifth round meeting to be held with government
OJSS Best website company in jalandhar
India News Centre

India News Centre

India News Centre

India News Centre

Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment






11

Latest post