ब्रह्म ज्ञान की प्राप्ति उपरांत ही परमात्मा पर विश्वास संभव: सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज

Faith in God is possible only after attainment of Brahman knowledge: Sadhguru Mata Sudiksha Ji Maharaj share via Whatsapp

Faith in God is possible only after attainment of Brahman knowledge: Sadhguru Mata Sudiksha Ji Maharaj


इंडिया न्यूज सेंटर,जालंधर:
पंजाब के  टूर पर  आए निरंकारी सतगुरु  माता सुदीक्षा  जी महाराज ने आज जालंधर के संत निरंकारी सत्संग  भवन में हुए विशाल निंरकारी संत समागम दौरान हज़ारों श्रद्धालुओं को आशीर्वाद देते हुए अपने प्रवचनों में कहा कि ब्रह्म ज्ञान की प्राप्ति उपरांत ही प्रभ परमात्मा पर विश्वास  और शुकराना के भाव संभव हो सकते हैं। उन्होंने कहा  कि परमात्मा को जान कर ही अपने आप की असली पहचान संभव होती है और हमारा कर्म भी सुंदर बनता है। उन्होंने फ़रमाया कि जिस तरह कमल का फूल गन्दगी में भी खिला रहता है और अपनी अलग पहचान बनाता है उसी तरह ब्रह्म ज्ञानी वैर विरोध,ईर्ष्या, नफ़रत, अहंकार से बच कर प्रभु परमात्मा का सहारा लेते हुए हमेशा शुकुराने  के भाव में रहता है और हर एक के साथ प्यार, प्रीत, विनम्रता, सहनशीलता,  विशालता आदि के साथ पेश आते हुए जीवन व्यतीत करता है और कोई भी दुनियाबी भाव अपने अंदर पैदा नहीं होने देता। उन्होंने आगे फ़रमाया  कि मनुष्य के मन में जब निरंकार का निवास हो जाता है तो प्रभु परमात्मा के साथ एकमिक की अवस्था आ जाती है, तो वह हमेशा इंसानी कदरों कीमतों को ही महत्ता देते हुए अपना जीवन व्यतीत करता है। ग्रहसथ जीवन व्यतीत करने  के लिए रोटी, कपड़ा, मकान, माया आदि ज़रूरी हैं परन्तु यह बात हमेशा याद रखनी है कि यह वस्तुएँ सिर्फ़ गुजरान  के लिए हैं। इन में से कोई चीज़ की कमी आने साथ निराश नहीं होना बल्कि  उसी स्थिति में अडोल  रहते हुए निरंकार प्रभु का शुकराना अदा करना है और निरंकार की रजा में रहना है। हमारे मन के  हमेशा हर एक के प्रति एकत्तव का भाव बना रहना चाहिए, सब को एक दृष्टि के साथ देखना चाहिए। उन्होंने बताया की  हम परमात्मा द्वारा की  स्थिति को नहीं बदल सकते बल्कि उसी स्थिति अनुसार ही ख़ुद को ढालदे हुए ख़ुशी ख़ुशी जीवन व्यतीत करना है और प्रभु परमात्मा का हमेशा शुकराना करना है। उन्होंने अंत में कहा कि "जिसके पल्ले नाम धन, वही सच्चे शाह। उन्होंने मनुष्य को हमेशा सेवा,सिमरन, सत्संग  को पहल देने की प्रेरणा दी। इस समागम की शुरुआत से पहले जालंधर में नये बने संत निरंकारी सत्संग  भवन का सतगुरु  माता सुदीक्षा जी महाराज ने उद्घाटन किया। इस मौके संत निरंकारी मंडल के प्रधान गोबिन्द सिंह जी, ज़ोनल इंचार्ज गुलशन लाल अहूजा, एच.एस. चावला लुधियाना, संयोजक गुरचरन सिंह ने सत्गुरू माता सुदीक्षा जी महाराज और समूह संगत का स्वागत करते हुए धन्यवाद किया और साथ ही समूह ज़िला प्रसाशन, पंजाब पुलिस, नगर निगम, प्रबंधकों, समूह सेवकों आदि का धन्यवाद किया।

Faith in God is possible only after attainment of Brahman knowledge: Sadhguru Mata Sudiksha Ji Maharaj
OJSS Best website company in jalandhar
India News Centre

India News Centre

India News Centre

India News Centre

Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment






11

Latest post