विरासती खेल गतके की प्रफुल्लता की तरफ सरकारें अधिक ध्यान देें- बाबा दिलावर सिंह ब्रह्मजी

States must promote traditional Gatka game : Baba Dilawar Singh Brahm Ji share via Whatsapp

States must promote traditional Gatka game : Baba Dilawar Singh Brahm Ji

 Gatka Coaching Camp dedicated to 550th Parkash Purab commences at Jalandhar

National Gatka Association opens three Gatka academies : Grewal

550वें प्रकाश पर्व को समर्पित गतका कोचिंग कैंप की शुरूआत

नेशनल गतका ऐसोसीएशन ने तीन गतका अकैडमियां खोली-गरेवाल

 इंडिया न्यूज सेंटर,जालंधर:
आज यहाँ संत बाबा भाग सिंह यूनिवर्सिटी में नेशनल गतका एसोसिएशन ऑफ इंडिया की तरफ से श्री गुरु नानक साहिब के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित पाँच दिवसीय गतका कोचिंग कैंप का उद्घाटन संत बाबा दिलावर सिंह ब्रह्मजी ने यूनिवर्सिटी के उप-कुलपति डा. जतिन्दर सिंह बल्ल और नेशनल गतका एसोसिएशन के प्रधान हरजीत सिंह गरेवाल की हाजिऱी में किया। इस मौके पर यूनिवर्सिटी के खेल डायरैक्टर डा. प्रीतम सिंह और स्पोर्टस अथॉरटी ऑफ इंडिया के ऑबज़र्वर के तौर पर कोच मैडम नरिन्दर कौर भी उपस्थित थे। इस मौके पर बोलते हुये संत बाबा दिलावर सिंह जी ने कहा कि गतके की खेल हमें गुरू साहिबान की तरफ से विरासत में मिली है और इस कारण समूह धार्मिक संस्थाओं समेत राज्य सरकारों इस कला की प्रफुल्लता की तरफ अधिक से अधिक ध्यान दें। उन्होंने यूनिवर्सिटी में विशेष गतका अकैडमी की स्थापना के लिए खिलाडिय़ों को बधाई देते हुये कहा कि यूनिवर्सिटी की तरफ से इस इलाके के गाँवों में गतके का अधिक से अधिक प्रसार किया जायेगा जिससे बच्चे नशों से रहित होते हुए वाणी और विरासत के साथ जुड़ कर खेल में अधिक योगदान डाल सकें। यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डा. बल्ल ने शैक्षिक और खेल के क्षेत्र में यूनिवर्सिटी की तरफ से थोड़े समय में बड़ी प्राप्तियों को मील पत्थर बताते हुये कहा कि भविष्य में यूनिवर्सिटी की तरफ से खेल के क्षेत्र में विशेष ध्यान दिया जायेगा जिससे विद्यार्थी पढ़ाई के साथ-साथ खेल में भी अपना भविष्य बना सकें। इस मौके पर बोलते हुये नेशनल गतका एसोसिएशन के प्रधान हरजीत सिंह गरेवाल स्टेट अवॉर्डी ने कहा कि इस ऐसोसीएशन के नेतृत्व अधीन तीन गतका अकैडमियां खोल दी गई हैं और हरेक अकैडमी में दो-दो कोच भर्ती किये जा चुके हैं। इसके अलावा नेशनल गतका चैंपियनशिप में विजेता रहे 50 बच्चों को 10,000 रुपए प्रति महीना वज़ीफ़ा दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि गतके को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्धि दिलाने के लिए यत्न जारी हैं और इन कोशिशों के तौर पर गतका टूर्नामेंटों में पारदर्शिता लाने के लिए डिजिटल स्कोर बोर्ड पहले ही शामिल किया जा चुका है और अब इन तीनों ही अकैडमियों के लिए चार सिंथैटिक गतके ग्राउंड खऱीदे गए हैं। गतका के प्रोमोटर गरेवाल ने बताया कि भविष्य में गतका खेलने के लिए फाइबर की छोटी भी जल्द शामिल की जायेगी। इंटरनेशनल सिख मार्शल आर्ट अकैडमी (इसमा) के सहयोग के साथ आयोजित इस पाँच दिवसीय गतका कोचिंग कैंप में पंजाब और हरियाणा से 100 से अधिक गतका कोचों ने भाग लिया। इस मौके पर स्टेज का संचालन यूनिवर्सिटी के खेल डायरैक्टर डा प्रीतम सिंह ने बखूबी निभाया। अन्यों के अलावा इस मौके पर ट्रस्ट के मित्र प्रधान केवल सिंह, नेशनल गतका ऐसोसीएशन के जनरल सचिव हरजिन्दर कुमार, मित्र प्रधान अवतार सिंह, इसमा के वित्त सचिव बलजीत सिंह, तीनों गतका अकैडमियों के कोच और इंस्टरक्कटर भी शामिल थे।

States must promote traditional Gatka game : Baba Dilawar Singh Brahm Ji
OJSS Best website company in jalandhar OJSS Best website company in jalandhar
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment






11

Latest post