बादलों को पंजाब के विरुद्ध किए गए गुनाहों की कीमत चुकानी पड़ेगीः मुख्यमंत्री चन्नी

BADALS TO PAY PRICE FOR THEIR SINS AGAINST PUNJAB- CM share via Whatsapp

BADALS TO PAY PRICE FOR THEIR SINS AGAINST PUNJAB- CM


·        AAP MLA FROM RAIKOT JOINS CONGRESS IN PRESENCE OF CM CHANNI AND PPCC CHIEF SIDHU

 

राएकोट हलके से ‘आप’ के विधायक मुख्यमंत्री चन्नी और पंजाब कांग्रेस के प्रधान सिद्धू की हाजिऱी में कांग्रेस में शामिल

 

इंडिया न्यूज सेंटर, बाघापुराना (मोगा) : राज्य की अंधी लूट-मार करने के लिए बादल परिवार पर बरसते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री स. चरणजीत सिंह चन्नी ने आज कहा कि बादलों को पंजाब और यहाँ के लोगों के विरुद्ध किए गए ना माफ करने योग्य गुनाहों की कीमत चुकानी पड़ेगी।

यहाँ स्थानीय अनाज मंडी में मुख्यमंत्री ने जनसभा को संबोधित किया, जहाँ पंजाब कांग्रेस के प्रधान स. नवजोत सिंह सिद्धू भी उपस्थित थे।

इस मौके पर मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा ने पंजाब के विरुद्ध हरेक बुरे काम में बादलों का हाथ है। उन्होंने कहा कि राज्य में केबल माफिया, रेत माफिया, ट्रांसपोर्ट माफिया और अन्य ऐसे कारोबार बादलों के कुशासन के दौरान फले-फूले थे। उन्होंने कहा कि इस माफीए ने पंजाब की संपत्ति की अंधी लूट की। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि बादलों की सरपरस्ती अधीन इस माफीए ने पंजाब को तबाह करके रख दिया और अब उनको अपने किए की सज़ा भुगतनी पड़ेगी और यह दिन अब बहुत दूर नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब जब उन्होंने बादलों की सरपरस्ती वाले माफीए के विरुद्ध लगाम कसी तो बादल अपना बचाव करने के लिए इधर-उधर हाथ-पैर मार रहे हैं। हालाँकि, उन्होंने कहा कि बादलों के गुनाह माफी के लायक नहीं और ज्यादतियों और गलतियों के लिए उनकी जवाबदेही तय की जाएगी। मुख्यमंत्री चन्नी ने बादलों की मलकीयत वाले केबल माफीए के खि़लाफ़ प्रवर्तन निदेशालय की कार्रवाई का स्वागत करते हुए कहा कि यह देरी से लिया गया फ़ैसला है।

मुख्यमंत्री चन्नी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल पर तीखा हमला करते हुए उसे अफ़वाहें फैलाने वाला राजनीतिज्ञ बताया, जो पंजाबियों को गुमराह करके पंजाब की सत्ता हथियाने के लिए तत्पर है। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि केजरीवाल और उसकी कंपनी को यह बात याद रखनी चाहिए कि इतिहास गवाह है कि पंजाबी हमेशा अपनी धरती और लोगों को बेहद प्यार करते हैं। उन्होंने कहा कि बीते समय में पंजाबियों ने ना तो कभी राज्य की सत्ता बाहरी व्यक्ति के हाथ में सौंपी है और ना ही भविष्य में ऐसा होने देंगे। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि दिल्ली मॉडल का कोई अस्तित्व नहीं है जबकि कांग्रेस के पंजाब मॉडल के साथ लोगों को बेहतर शासन मुहैया करवाया जा रहा है।

केजरीवाल पर चुटकी लेते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उसे तो राज्य के बारे में बुनियादी समझ भी नहीं है। दिल्ली के मुख्यमंत्री को चुनौती देते हुए मुख्यमंत्री चन्नी ने उनको राज्य की दो रिवायती खेल ‘गिल्ली डंडा’ और ‘बंदर किल्ला’ के बीच का अंतर बताने के लिए कहा। मुख्यमंत्री चन्नी ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि केजरीवाल और उसकी कंपनी का पंजाब को लूटने का ख्वाब कभी भी हकीकत में नहीं बदलेगा।

मुख्यमंत्री ने लोगों के साथ भावात्मक सांझ प्रकट करते हुए कहा कि वह एक साधारण परिवार से सम्बन्ध रखते हैं, जिस कारण वह लोगों की समस्याओं को भली-भाँति जानते हैं। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का हरेक आम लोगों की भलाई के उद्देश्य से उठाया जाता है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि हमारी सरकार आम लोगों की, आम लोगों के लिए और आम लोगों द्वारा बनाई गई सरकार है। मुख्यमंत्री ने दोहराया कि पंजाब को लूटने के लिए अलग-अलग पार्टियों के धनवान राजनीतिज्ञों का आपस में नापाक गठजोड़ बनाया हुआ था, जिसमें से आम व्यक्ति को पूरी तरह से बाहर कर दिया था। उन्होंने कहा कि धनवान टोलियों के सदस्यों ने अपने संकुचित हितों और पंजाब की लूट-मार करने के लिए गहरी सांझ डाली हुई थी। उन्होंने कहा कि यह लोग दुर्भावना से ऐसा कर रहे थे, जिससे सत्ता का गरिमा का आनंद ले सकें, जबकि हरेक पाँच सालों के बाद शासक तो बदलता था परन्तु सत्ता इन लोगों के हाथों में रहती थी। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि अब यह गठजोड़ टूट चुका है और सत्ता की बागडोर आम आदमी के हाथ में है।

मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि वह खुशकिस्मत हैं कि कांग्रेस लीडरशिप ने उनको राज्य की सेवा करने का मौका प्रदान किया है। उन्होंने कहा कि मैं राज्य के लोगों को दरपेश समस्याओं के हल के लिए यत्नशील हैं। कांग्रेस सरकार द्वारा लोक-हितैषी पहलकदमियों के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि बिजली बिलों के 1500 करोड़ रुपए के बकाए माफ किए गए हैं, घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली दरें 3 रुपए प्रति यूनिट घटाई गई हैं, ग्रामीण क्षेत्रों में मोटरों के 1200 करोड़ रुपए माफ किए गए हैं, पानी के खर्चे घटाकर 50 रुपए महीना किए गए हैं, रेत के रेट घटाकर 5.50 रुपए प्रति वर्ग फुट कर दिए गए हैं और पंजाब सरकार गन्ने के 50 रुपए बढ़े भाव में से 35 रुपए का खर्चा वहन कर रही है, जबकि प्राईवेट मिलों को अब सिफऱ् 15 रुपए का बोझ ही वहन करना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि सिफऱ् यही नहीं बल्कि आने वाले दिनों में और भी कई ऐसे महत्वपूर्ण फ़ैसले लिए जाएंगे।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने बाघापुराना में एक नर्सिंग कॉलेज स्थापित करने के साथ-साथ शहीद भगत सिंह के नाम पर स्टेडियम बनाने का ऐलान किया। उन्होंने गुरू नानक कॉलेज और स्पोट्र्स अकादमी के लिए अनुदान के साथ बाघापुराना के दो मौजूदा अस्पतालों को अपग्रेड करने का भी ऐलान किया। मुख्यमंत्री ने समाध भाई को सब तहसील का दर्जा देने का ऐलान भी किया।

मुख्यमंत्री चन्नी और स. सिद्धू का स्वागत करते हुए बाघापुराना से विधायक श्री दर्शन सिंह बराड़ ने कहा कि इन नेताओं द्वारा इस हलके का दौरा करने के लिए उनके पास धन्यवाद करने के लिए शब्द नहीं हैं। उन्होंने कहा कि इन दोनों नेताओं के सत्ता में आने से कार्यकर्ताओं की प्रतिष्ठा में इज़ाफा हुआ है। श्री बराड़ ने मुख्यमंत्री द्वारा उनके हलके को अनुदान देने के लिए धन्यवाद भी किया।

इस दौरान हलका रायकोट से ‘आप’ विधायक जगतार सिंह जग्गा आम आदमी पार्टी को अलविदा कह कर कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए। मुख्यमंत्री चन्नी और स. सिद्धू दोनों ने उनका पार्टी में स्वागत किया।

इस मौके पर अन्यों के अलावा सांसद श्री मोहम्मद सदीक, विधायक श्री दर्शन सिंह बराड़, श्री कुलबीर सिंह ज़ीरा, श्रीमती सतकार कौर और राणा गुरमीत सिंह सोढी उपस्थित थे।

BADALS TO PAY PRICE FOR THEIR SINS AGAINST PUNJAB- CM

OJSS Best website company in jalandhar
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment








11

Latest post