मुख्यमंत्री द्वारा करिड्ड के संस्थापक रशपाल मल्होत्रा की मौत पर दुख व्यक्त

PUNJAB CM MOURNS PASSING AWAY OF FOUNDER OF CRRID RASHPAL MALHOTRA share via Whatsapp

PUNJAB CM MOURNS PASSING AWAY OF FOUNDER OF CRRID RASHPAL MALHOTRA

इंडिया न्यूज सेंटर,चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने मंगलवार को सैंटर फार रिर्सच इन रुरल् एंड इंडस्ट्रियल डिवेलपमेंट (सी.आर.आर.आई.डी) के संस्थापक और प्रसिद्ध विद्वान रशपाल मल्होत्रा की मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया है। वह 84 वर्षों के थे जो पिछले एक हफ्ते से कोविड से जूझते हुए आज प्रातःकाल यहाँ एक निजी अस्पताल में चल बसे। वह अपने पीछे पत्नी, एक पुत्र और एक बेटी छोड़ गए हैं।

एक शौक संदेश में मुख्यमंत्री ने रशपाल मल्होत्रा को प्रसिद्ध शिक्षाविद, सक्षम प्रशासक और अच्छे गुणों का प्रेक्षक मनुष्य बताया जिन्होंने उत्तरी क्षेत्र के सामाजिक और आर्थिक विकास में अहम भूमिका निभाई। मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब के ग्रामीण और औद्योगिक विकास में कीमती योगदान डालने के लिए रशपाल मल्होत्रा को हमेशा याद रखा जायेगा।

दुःखी परिवार के सदस्यों और सगे-संबंधियों के साथ दिली हमदर्दी जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री ने परमात्मा के आगे दिवंगत आत्मा को अपने चरणों में शाश्वत निवास देने और दुख की इस घड़ी में ईश्वरीय आदेश मानने का हौंसला प्रदान करने के लिए अरदास की।

जिक्रयोग्य है कि मौजूदा समय रशपाल मल्होत्रा करिड्ड के कार्यकारी चेयरमैन और पुष्पा गुजराल साईंस सिटी के बोर्ड आफ गवर्नरज के मैंबर के अलावा कई अन्य प्रतिष्ठित संस्थाओं में भी सेवा निभा रहे थे। वह पंजाबी यूनिवर्सिटी, पटियाला और पंजाब यूनिवर्सिटी, चण्डीगढ़ के सीनेट मैंबर भी थे।

ग्रामीण विकास मंत्री तृप्त बाजवा द्वारा प्रसिद्ध शिक्षा शास्त्री रशपाल मल्होत्रा के देहांत पर गहरा दुख प्रकट

RURAL DEVELOPMENT MINISTER TRIPT BAJWA CONDOLES SAD DEMISE OF RENOWNED ACADEMICIAN RASHPAL MALHOTRA


चंडीगढ़ः पंजाब के ग्रामीण विकास और पंचायत मंत्री तृप्त रजिन्दर सिंह बाजवा ने प्रसिद्ध शिक्षा शास्त्री रशपाल मल्होत्रा (84) के देहांत पर दुख प्रकट किया है, जो सैंटर फॉर रिसर्च इन रुरल् एंड इंडस्ट्रियल डिवेल्पमेंट (सी.आर.आर.आई.डी) के संस्थापक थे।

वह पिछले एक हफ्ते से अधिक समय से कोविड से जूझ रहे थे परन्तु कोरोना के विरुद्ध यह जंग वह हार गए और आज सुबह यहाँ एक निजी अस्पताल में उनकी मौत हो गई। वह अपने पीछे पत्नी, एक बेटा और एक बेटी छोड़ गए हैं।

श्री तृप्त बाजवा ने कहा कि रशपाल मल्होत्रा एक महान शिक्षा शास्त्री, दार्शनिक और अपने आप में एक मुकम्मल संस्था थे। उनकी दूरदर्शी सोच, सार्वजनिक नीतियों के क्षेत्र में बौद्धिक गतिविधियों, शांति और सद्भावना के साथ विकास करने के कारण उन्होंने अंतरराष्ट्रीय प्रसिद्धि और पहचान प्राप्त की। रशपाल मल्होत्रा को पंचायती राज प्रणाली के सुदृढिक़रण और पावर स्ट्रक्चर के विकेंद्रीकरण में बेमिसाल योगदान देने के लिए हमेशा याद रखा जायेगा। ग्रामीण विकास मंत्री ने इस दुख की घड़ी में पारिवारिक सदस्यों को ईश्वरीय आदेश मानने का बल प्रदान करने और दिवंगत आत्मा को अपने चरणों में स्थान देने के लिए परमात्मा के समक्ष अरदास की।

PUNJAB CM MOURNS PASSING AWAY OF FOUNDER OF CRRID RASHPAL MALHOTRA
OJSS Best website company in jalandhar
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment






11

Latest post