अमृतसर रेल हादसाः पंजाब में शनिवार को राज्यकीय शोक घोषित, बंद रहेंगे स्कूल-कालेज, मुख्यमंत्री ने अमृतसर रेल हादसे की जांच के दिए आदेश

CM Capt Amarinder Singh has been declared on Saturday due to tragic train accident in Amritsar all government offices and educational institutions in the state will be closed on Saturday share via Whatsapp

CM Capt Amarinder Singh has been declared on Saturday due to tragic train accident in Amritsar on Friday night. In view of this, all government offices and educational institutions in the state will be closed on Saturday

पंजाब डेस्कः पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार की रात अमृतसर में दुखद रेल दुर्घटना के कारण शनिवार को राज्य शोक घोषित कर दिया गया है। इसके मद्देनजर शनिवार को राज्य में सभी सरकारी कार्यालय और शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे। सीएम ने रेल हादसे की राहत और पुनर्वास प्रयासों की निगरानी के लिए एक संकट प्रबंधन समूह की स्थापना की है। स्वास्थ्य मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा के नेतृत्व में गठित समूह में राजस्व मंत्री सुखविंदर सिंह सरकारिया और तकनीकी शिक्षा मंत्री चरंजीत सिंह चन्नी को सदस्य के रूप में शामिल किया गया है। स्थिति का जायजा लेने और राहत कार्यों की समीक्षा करने के लिए यह टीम दुर्घटना स्थल पर पहुंची गई है। राज्य सरकार द्वारा राहत और पुनर्वास के प्रयास युद्ध स्तर पर किए जा रहे हैं। घायलों का अमृतसर के विभिन्न सरकारी और निजी अस्पतालों में आपातकालीन उपचार किया जा रहा है।


 सैकेंडों में खून से सन गई जमीन, जगह-जगह बिखरें पड़े थे मानव अंग

घटनास्थल का मंजर यह था कि मात्र पांच सैकंड के समय में वहां अनेक लोग रेलगाड़ी के नीचे कट गए और अनेक घायल हो गए। इनमें ज्यादातर महिलाएं और बच्चे थे। कम से कम 60 से अधिक लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। अनेक लोग घायल हो गये। जगह जगह मानव अंग बिखर गए जमीन खून से सन गई। घटनास्थल पर हताहतों और परिजनों की चीत्कार सुन कर वहां यह दृश्य देखने वाले हर किसी का दिल दहल गया। मृतकों में ज्यादातर उत्तर प्रदेश और बिहार के बताए जाते हैं।  बताया जाता है कि विजयदशमी पर्व पर वहां लोगों को रेल पटरी से हटाने के लिये स्थानीय प्रशासन और रेलवे की ओर से कोई व्यवस्था नहीं की गई थी।

दुर्घटना के बाद जालंधर-अमृतसर मार्ग पर रेल सेवा स्थगित 

अमृतसर के पास शुक्रवार को रेलवे की पटरी के पास रावण दहन के दौरान ट्रेन की चपेट में आकर 50 लोगों के मारे जाने की घटना के तीन घंटे बाद भी जालंधर-अमृतसर मार्ग पर रेल सेवा पूरी तरह से बाधित रही। रेलवे के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कुछ ट्रेनों का जहां रास्ता बदला गया है वहीं कई को जालंधर के पास रोककर रखा गया है। 
 

घायलों को ब्लड की जरूरत

वहीं रेल हादसे में घायल हुए लोगों को गुरु नानक अस्पताल, सिविल अस्पताल, श्री गुरु रामदास अस्पताल सहित कई निजी अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है। लोगों से आग्रह है कि वे अस्पताल में घायलों को रक्तदान कर सकते हैं। घटनास्थल पर मौजूद लोगों के मुताबिक, ट्रेन की स्पीड बहुत ज्यादा थी, जबकि भीड़भाड़ वाले इलाके को देखते हुए इसकी रफ्तार कम होनी चाहिए। इस घटना को लेकर स्थानीय लोगों में काफी नाराजगी है। फिलहाल घटनास्थल पर लोग पहुंचकर अपनों की तलाश कर रहे हैं।

अमृतसर ट्रेन दुर्घटना: हेल्पलाइन नंबर

BSNL- 0183-2223171
BSNL- 0183-2564485
BSNL- 0183-2440024
BSNL- 0183-2402927

CM Capt Amarinder Singh has been declared on Saturday due to tragic train accident in Amritsar all government offices and educational institutions in the state will be closed on Saturday
India News Centre

India News Centre

Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment





10
11

Latest post