यूपीः बाहुबली सांसद बृजभूषण शरण सिंह और बसपा गठबंधन में होगा रोचक मुकाबला

Bahubali MP Brij Bhushan Sharan Singh and BSP will fight share via Whatsapp

Bahubali MP Brij Bhushan Sharan Singh and BSP will fight


कैबिनेट मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा की साख पर लगा दाव

रिपोर्ट -- अशफाक अहमद खां

बहराइचः
भारत नेपाल सीमा स्थित बहराइच जिले की कैसरगंज लोकसभा सीट पर इस बार बाहुबली भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह को सपा - बसपा के गठबंधन और कांग्रेस प्रत्याशियों से कड़ी टक्कर मिलने के संकेत मिल रहे है। वर्ष 2009 में सपा और 2014 में भाजपा से जीते बृजभूषण शरण सिंह का क्षेत्र में काफी दबदबा है। कैसरगंज लोकसभा क्षेत्र सांसद बृज भूषण शरण सिंह का बहुत ही मजबूत गढ़ माना जाता है वह इस लोकसभा क्षेत्र से लगातार दो बार सांसद चुने गये हैं और तीसरी बार वह इस क्षेत्र से चुनावी मैदान में उतरे हैं जबकी दो बार वह गोंडा व बलरामपुर से सांसद निर्वाचित हुवे हैं।सभी कयासों पर विराम लगाते हुए बसपा सरकार में चार बार मंत्री रहे चन्द्रदेव राम यादव गठबंधन से उम्मीदवार बनाए गए है। वर्ष 2014 के चुनाव में सपा के विनोद कुमार सिंह उर्फ पंडित सिंह ने भाजपा के बृजभूषण शरण सिंह को कड़ी टक्कर दी थी। इस बार पंडित सिंह कैसरगंज लोकसभा के बजाय गोण्डा लोकसभा से सपा बसपा के संयुक्त उम्मीदवार के रूप में अपनी किस्मत आजमा रहे है। हालांकि कांग्रेस पार्टी ने अभी अपने पत्ते नही खोले है जबकि नामांकन आज से शुरू भी हो गया है। करीब एक माह पूर्व कैसरगंज सीट से गठबंधन के प्रत्याशी के रूप में जोर आजमाइश कर रहे संतोष तिवारी को  सपा बसपा गठबंधन से टिकट मिलना भी लगभग तय था किन्तु अचानक पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। वर्ष 2008 के तृतीय परिसीमन के बाद  इस संसदीय क्षेत्र में गोण्डा जिले की तीन एवं बहराइच के दो विधानसभा क्षेत्र आते है। जिनमें गोण्डा के करनैलगंज,कटरा, एवं डिक्सिर तथा बहराइच के कैसरगंज एवं पयागपुर विधानसभा आते है।वर्तमान में लगभग 17 लाख 11 हजार 446 मतदाता आगामी 06 मई 2019 को होने वाले पांचवे चरण के चुनाव में मतदान कर प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे।कैसरगंज क्षेत्र बाढ़ प्रभावित क्षेत्र रहा है जहां आज भी सैकड़ो लोग झोपड़ी बनाकर जीवन यापन कर रहे है।सभी क्षेत्रों में पिछड़ा यह क्षेत्र जनप्रतिनिधियों की कार्यशैली को मुंह चिढ़ाता नजर आ रहा है।आजादी के 71 वर्ष बीत जाने के बाद भी कैसरगंज रेलमार्ग से नही जुड़ पाया हालांकि रफी अहमद किदवई इसी क्षेत्र से जीतकर केंद्र सरकार में रेलमंत्री भी रहे।वर्ष 2014 के चुनाव में भाजपा प्रत्याशी बृजभूषण शरण सिंह को 3 लाख 81 हजार 500 वोट प्राप्त हुए थे और सपा के विनोद कुमार सिंह उर्फ पंडित सिंह को 3 लाख 3 हजार 282 एवं बसपा के के. के. ओझा को 1 लाख 46 हजार 726 वोट ही मिला था।इस प्रकार यदि सपा और बसपा प्रत्याशियों को मिले वोटों को जोड़ दिया जाए तो यहां से इस बार भाजपा प्रत्याशी बृज भूषण शरण सिंह को चुनाव जीतने के लिए मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। पिछले चुनाव में इस सीट से कांग्रेस प्रत्याशी मुकेश श्रीवास्तव को 57 हजार 401 वोटों से ही संतोष करना पड़ा था। हालांकि बूथ स्तर पर भाजपा की तैयारी अन्य दलों की अपेक्षा ज्यादा नजर आ रही है और वर्तमान में इस चुनाव में इस क्षेत्र से विधायक एवं प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा की साख भी दांव पर लगी हुई है। सपा-बसपा गठबंधन से बसपा सरकार में चार बार मंत्री रहे चन्द्रदेव राम यादव के नाम की घोषणा हो जाने से यहां का मुकाबला काफी रोचक हो गया है।बसपा-सपा ने यदि अपने परम्परागत वोट व कुछ अन्य जाति के वोटों में सेंध मारने में सफलता प्राप्त की तो भाजपा के लिए मुश्किलें बढ़ सकती है।आगामी 06 मई को होने वाले इस चुनाव की गुत्थी में उलझे प्रत्याशियों का फैसला यहां के मतदाता करेंगे मुकाबला काफी रोचक होने के संकेत मिल रहे है।अब देखना यहां यह है कि पूर्वांचल के बाहुबली व शिक्षाकिंग के रूप में अपनी पहचान बनाने वाले बृजभूषण शरण सिंह को अपनी राह आसान करने के लिए क्या पैंतरे अपनाने पड़ेंगे।

--------------
कब कौन जीता

    वर्ष
1-1952- सरदार जोगेन्द्र सिंह(कांग्रेस)

2-1957- पं भगवानदीन मिश्र वैद्य(कांग्रेस)

3-1962- बसंत कुमारी(स्वतंत्र पार्टी)

4-1967- शकुंतला नायर(जनसंघ)

5-1971-शकुंतला नायर(जनसंघ)

6-1977- रुद्रसेन चौधरी(जनसंघ)

7-1980- रानावीर सिंह(कांग्रेस)

8-1984- रानावीर सिंह(कांग्रेस)

9-1989- रुद्रसेन चौधरी(भाजपा)

10-1991- लक्ष्मी नरायणमणि(भाजपा)

11-1996- बेनी प्रसाद वर्मा(सपा)

12-1998- बेनी प्रसाद वर्मा(सपा)

13-1999- बेनी प्रसाद वर्मा(सपा)

14-2004- बेनी प्रसाद वर्मा(सपा)

15-2009- बृजभूषण शरण सिंह(भाजपा)

16-2014-बृजभूषण शरण सिंह(भाजपा)

Bahubali MP Brij Bhushan Sharan Singh and BSP will fight
OJSS Best website company in jalandhar
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment






11

Latest post