‘नानक नाम चढ़दी कला, तेरे भाने सरबत दा भला’ विषय के अंतर्गत मनाए जाएंगे श्री गुरु नानक देव जी के 550 वर्षीय प्रकाश पर्व समागम- नवजोत सिंह सिद्धू

'NANAK NAAM CHARHDI KALA, TERE BHAANEY SARBAT DA BHALA' TO BE CENTRAL THEME BEHIND 550TH PARKSAH PURB CELEBRATIONS OF SRI GURU NANAK DEV JI IN 2019: NAVJOT SINGH SIDHU share via Whatsapp

'NANAK NAAM CHARHDI KALA, TERE BHAANEY SARBAT DA BHALA' TO BE CENTRAL THEME BEHIND 550TH PARKSAH PURB CELEBRATIONS OF SRI GURU NANAK DEV JI IN 2019: NAVJOT SINGH SIDHU

- YEAR LONG CELEBRATIONS TO FOCUS ON TEACHINGS OF GURU NANAK DEV JI

-DECISION TAKEN TO FORM INTERNATIONAL OUTREACH COMMITTEE, MEDIA & COMMUNICATIONS COMMITTEE & RESOURCE MOBILISATION COMMITTEE UNDER MR. NAVJOT SINGH SIDHU

-PRIME MINISTER TO BE APPROACHED FOR CONSTITUTING A COMMITTEE AT CENTRAL LEVEL

-CELEBRATIONS TO BE HELD WITH ACTIVE ASSISTANCE OF UNION GOVERNMENT & VARIOUS STATE GOVERNMENTS

-SGPC, SANT SAMAJ, RELIGIOUS PERSONALITIES & INSTITUTIONS, ALL POLITICAL PARTIES & EDUCATIONAL INSTITUTIONS TO BE MADE PART OF CELBRATIONS

-NATIONAL & INTERNATIONAL DIASPORA ALSO TO BE PART OF CELEBRATIONS

-ICONIC MONUMENT DEDICATED TO HUMANITY TO COME UP


गुरू नानक देव जी की शिक्षाएं को समर्पित वर्षभर विभिन्न स्थानोंं पर करवाए जाएंगे समागम

नवजोत सिंह सिद्धू की अध्यक्षता अधीन हुई मीटिंग में विभिन्न कमेटियों के गठन का फैसला

प्रधानमंत्री को केंद्रीय स्तर पर कमेटी बनाने की जायेगी मांग

केंद्र सरकार और विभिन्न राज्यों की सरकारों के सहयोग के साथ स पूर्ण कि ये जाएंगे समागम

शिरोमणि कमेटी, संत समाज, धार्मिक श िशयतों  और संस्थाओं, सभी राजनैतिक पक्षों और शैक्षिक संस्थाओं को शताब्दी समागमों का हिस्सा बनाया जायेगा

पंजाब से बाहर देश और विदेशों की संगत को शताब्दी समागमों के साथ जोड़ा जाएगा

 गुरू नानक देव जी के 550 साला प्रकाश पर्व को समर्पित राज्य में मिसाली यादगार स्थापित की जाएगी


इंडिया न्यूज सेंटर,चंडीगढ़:
पंजाब सरकार द्वारा श्री गुरु नानक देव जी के 550 वां प्रकाश पर्व बड़े स्तर पर मनाया जायेगा जिसका केंद्रीय विषय ‘नानक नाम चढ़दी कला, तेरे भाने सरबत दा भला’ होगा। यह फ़ैसला आज यहाँ पंजाब भवन में सांस्कृतिक मामलों और पर्यटन मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय मीटिंग में लिया गया। इस मीटिंग में डेरा बाबा नानक से विधायक  सुखजिन्दर सिंह रंधावा, मुख्य सचिव  करन अवतार सिंह, सांस्कृतिक मामलों और पर्यटन विभाग के सचिव विकास प्रताप, डायरैक्टर शिव दुलार सिंह ढिल्लों, पंजाब कला परिषद के चेयरमैन डा.सुरजीत पातर, पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला के उप कुलपति डा.बी.एस.घुंमण, गुरू नानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर के उप कुलपति जसपाल सिंह संधू, पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ से प्रशांत गौतम और कंवलजीत सिंह भी उपस्थित थे। मीटिंग उपरांत जारी प्रैस बयान में स. सिद्धू ने कहा कि हाल ही में मु यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व अधीन हुई मीटिंग में फ़ैसला किया गया था कि अगले वर्ष 2019 में आ रहे श्री गुरु नानक देव जी के 550 वेंं प्रकाश पर्व को राज्य सरकार बड़े स्तर पर मनाएगी जिस की तैयारियों का नक्षा बनाने के लिए उनके विभाग को जि़ मेदारी सौंपी है। उन्होंने कहा कि मु यमंत्री के दिशा निर्देशों के अंतर्गत बुलायी गई आज की मीटिंग में सब से बड़ा फ़ैसला यह लिया गया था पूरा वर्ष चलने वाले प्रकाश-पर्व समागमों का केंद्रीय विषय ‘नानक नाम चढ़दी कला, तेरे भाने सरबत दा भला’ होगा। उन्होंने कहा कि वर्षभर चलने वाले समागम इस केंद्रीय विषय आसपास घूमेंगे। उन्होंने कहा कि गुरू साहिब जी ने चढ़दी कला में रहने और सारी दुनिया का भला मांगने का संदेश दिया है और राज्य सरकार समागमों के द्वारा गुरू साहिब की शिक्षाएं को दुनिया के कोने -कोने तक पहुँचाएगी ।स. सिद्धू ने बताया कि आज की मीटिंग में विभिन्न कमेटियों का गठन करने का फ़ैसला किया गया। इन कमेटियों का मु य उदेश्य काली वेईं की सफ़ाई और स्वच्छ सुलतानपुर लोधी मुहिम चलाना, श्री गुरु नानक देव जी संबंधी विभिन्न यूनिवर्सिटी -कालेजों में सैमीनार, साहित्यक मुकाबले, पेंटिंग और फोटो प्रदर्शनियाँ करवाना, पंजाब की यूनिवर्सिटियाँ और पंजाब से बाहर किसी दो जगह गुरू नानक देव जी चेयर स्थापित करना, 550 वें प्रकाश- पर्व को समर्पित राज्य में शानदार मिसाली यादगार स्थापित करना है जो इंसानियत को समर्पित होगी। उन्होंने कहा कि विश्व कवि स मेलन भी करवाया जायेगा और विश्व पवित्र संगीत मेला भी करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि वहाँ के स याचारों को भी समागमों का हिस्सा बनाया जायेगा जहाँ -जहाँ गुरू साहिब ने चरण डाले। स. सिद्धू ने कहा कि साधनों को जुटाने के लिए समिति बनाई जायेगी जिस में कॉर्पोरेट घरानों को भी शामिल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि शताब्दी समागमों में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति, संत समाज, धार्मिक श िशयतों और संस्थाओं और सभी पार्टियों के प्रतिनिधियों को शामिल किया जायेगा और विभिन्न कमेटियों में सभी पार्टियों के संसद मैंबर और विधायक भी शामिल किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि इन समागमों को सफलतापूर्वक स पूर्ण करने के लिए एक वक्कारी इवेंट मैनेजमेंट कंपनियों की सेवाओं ली जाएंगी और इन समागमों के साथ पंजाब से बाहर देश और विदेशों की संगत को जोडऩे के लिए ‘इंटरनेशनल आऊटरीच कमेटी’ बनाई जायेगी। समागमों की उचित कवरेज के लिए प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के अलावा सोशल मीडिया संबंधी भी कमेटी बनाई जायेगी। उन्होंने कहा कि हमारा मकसद गुरू नानक देव जी की शिक्षाओं को दूर -दूर तक पहुँचाना है और 550 वें प्रकाश -पर्व के जश्नों में प्रत्येक को शामिल करना है। स. सिद्धू ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा देश के प्रधानमंत्री के पास केंद्रीय स्तर पर कमेटी बनाने की माँग की जायेगी। इसके अलावा केंद्रीय सडक़ यातायात और राज्य मार्ग मंत्रालय को पत्र लिखकर देश में गुरू साहिब जी की चरण स्पर्श  स्थानों को गुरू नानक मार्ग के साथ जोडऩे की माँग की जायेगी। उन्होंने कहा कि विभिन्न राज्यों की सरकारों को भी समागमों में शामिल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पंजाब के बाहर गुरू साहिब से संबन्धित स्थानों पर भी कोई न कोई समागम करवाने के लिए संबन्धित राज्यों सरकारों को लिखा जायेगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी की तरफ से पहले ही मीटिंग करके फ़ैसला किया गया है कि सुलतानपुर लोधी में मुख्य समागम होगा।

'NANAK NAAM CHARHDI KALA, TERE BHAANEY SARBAT DA BHALA' TO BE CENTRAL THEME BEHIND 550TH PARKSAH PURB CELEBRATIONS OF SRI GURU NANAK DEV JI IN 2019: NAVJOT SINGH SIDHU
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment





10
11

Latest post